भारतीय अंतरराष्ट्रीय विज्ञान महोत्सव (आईआईएसएफ) के एक हिस्से के रूप में भारत का छठा अंतरराष्ट्रीय विज्ञान फिल्म समारोह (आईएसएफएफआई) 22 दिसम्बर से 25 दिसम्बर 2020 तक आयोजित किया जाएगा - Daily Hindi Paper | RPSC Online GK in Hindi | GK in Hindi l RPSC Notes in Hindi

Breaking

सोमवार, 21 दिसंबर 2020

भारतीय अंतरराष्ट्रीय विज्ञान महोत्सव (आईआईएसएफ) के एक हिस्से के रूप में भारत का छठा अंतरराष्ट्रीय विज्ञान फिल्म समारोह (आईएसएफएफआई) 22 दिसम्बर से 25 दिसम्बर 2020 तक आयोजित किया जाएगा


आईआईएसएफ-2020


भारतीय अंतरराष्ट्रीय विज्ञान महोत्सव (आईआईएसएफ) के एक हिस्से के रूप में, भारत के अंतरराष्ट्रीय विज्ञान फिल्म समारोह (आईएसएफएफआई)का उद्देश्य विज्ञान को लोकप्रिय बनाने के प्रयासों को बढ़ावा देना और युवा विज्ञान फिल्मकारों व विज्ञान में रुचि रखने वाले लोगों को आकर्षित करना है।विज्ञान से जुड़ी फिल्में लोगों के बीच बड़े पैमाने पर विज्ञान के प्रति उत्साह जगाने और उसेबढ़ावा देने के लिहाज से विज्ञान संबंधी संचार का एक प्रभावी माध्यम है।ये फिल्में दर्शकों के जेहन में एक वैज्ञानिक चेतना विकसित करने में भी मदद करतीहैं औरविश्लेषणात्मक सोच को आकार देती हैं,  जोकि किसी राष्ट्र के समावेशी विकास की एक पूर्व- शर्त है।

आईएसएफएफआईछात्रों एवं अन्य प्रतिभागियों को विज्ञान फिल्म निर्माण की प्रक्रिया में शामिल होने और विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी से जुड़ी विभिन्न उपलब्धियों के बारे में उनकी समझ कोबेहतर करने का एक अवसर प्रदान करता है।यह पहल विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी के विशिष्ट क्षेत्रों में फिल्मकारों के प्रयासों और योगदानों को मान्यता देती है और उन्हें गुणवत्तापूर्ण रचनात्मक सामग्री के साथ खासतौर पर हमारे देश के लिए प्रासंगिक विज्ञान फिल्म बनाने के इस अनूठे पेशे को विकसित करने के लिए प्रेरित करती है।

कोविड-19 महामारी की वजह से और भारत सरकार के दिशा-निर्देशों के अनुसार, इस वर्ष आईएसएफएफआई-2020 का आयोजन एक आभासी माहौल में 22 दिसंबर से 25 दिसंबर, 2020 के बीच किया जाना है।

इस साल60 देशों से रिकॉर्ड 632 विज्ञान वृत्तचित्रलघु फिल्में और एनीमेशन वीडियो प्राप्त हुए हैं।अंतरराष्ट्रीय ख्यातिप्राप्त और विज्ञानस्वास्थ्य एवं पर्यावरण की पुरस्कृत विदेशी एवं भारतीय फिल्मों को ऑनलाइन प्लेटफॉर्म के जरिए प्रदर्शित किया जायेगा।भारतीय और अंतरराष्ट्रीय पेशेवर एवं छात्र फिल्मकारों के लिए एक प्रतियोगिता आयोजित की जायेगी।


प्रतियोगी श्रेणियों के विषय और पुरस्कार


प्रविष्टियों को मुख्य रूप से निम्नलिखित विषयों और उप-विषयों में विभाजित किया गया:


(i) अंतरराष्ट्रीय श्रेणी के लिए पुरस्कार

"आत्मनिर्भर भारत के लिए विज्ञान और/ या वैश्विक कल्याण के लिए विज्ञान" विषय पर समारोह का सर्वश्रेष्ठ पुरस्कार -ट्रॉफी एवं प्रमाण-पत्र।


"विज्ञान और कोविड-19 एवं अन्य स्वास्थ्य संबंधी आपात स्थितियों के बारे में जागरूकता" विषय पर समारोह का सर्वश्रेष्ठ पुरस्कार - ट्रॉफी एवं प्रमाण-पत्र।


जूरी पुरस्कार (2) - ट्रॉफी एवं प्रमाण-पत्र।


(ii) भारतीय नागरिकों की विभिन्न श्रेणियों के लिए पुरस्कार

अ. स्वतंत्र फिल्मकार (भारतीय नागरिक)

"आत्मनिर्भर भारत के लिए विज्ञान और/ या वैश्विक कल्याण के लिए विज्ञान" विषय पर समारोह का सर्वश्रेष्ठ पुरस्कार - 1,00,000 रुपये नकद, ट्रॉफी एवं प्रमाण-पत्र।


"विज्ञान और कोविड-19 एवं अन्य स्वास्थ्य संबंधी आपात स्थितियों के बारे में जागरूकता" विषय पर समारोह का सर्वश्रेष्ठ पुरस्कार- 1,00,000 रुपये नकद, ट्रॉफी एवं प्रमाण-पत्र।


जूरी पुरस्कार (2) - 50,000 रुपये नकद,  ट्रॉफी एवं प्रमाण-पत्र।


ब. कॉलेज/स्कूल के छात्र (भारतीय नागरिक)

"आत्मनिर्भर भारत के लिए विज्ञान और/ या वैश्विक कल्याण के लिए विज्ञान" विषय पर समारोह का सर्वश्रेष्ठ पुरस्कार - 75,000 रुपये नकद, ट्रॉफी एवं प्रमाण-पत्र।


"विज्ञान और कोविड-19 एवं अन्य स्वास्थ्य संबंधी आपात स्थितियों के बारे में जागरूकता" विषय पर समारोह का सर्वश्रेष्ठ पुरस्कार - 75,000 रुपये नकद, ट्रॉफी एवं प्रमाण-पत्र।


जूरी पुरस्कार (2) - 35,000 रुपये नकद,  ट्रॉफी एवं प्रमाण-पत्र।


गैर – प्रतियोगी श्रेणी

. फिल्में (केवल प्रदर्शन के लिए)- गैर- प्रतियोगी खंड के लिए अवधि की कोई सीमा नहीं है।

. गैर-प्रतियोगी श्रेणियों के लिए विषय: विज्ञान, प्रौद्योगिकी, पर्यावरण एवं स्वास्थ्य।

प्रविष्टिकी प्रक्रिया 10 दिसंबर 2020 को समाप्त हुई।