जम्मू-कश्मीर DDC चुनाव रिजल्ट : 74 सीटों के साथ BJP बनी अकेली सबसे बड़ी पार्टी. - Daily Hindi Paper | RPSC Online GK in Hindi | GK in Hindi l RPSC Notes in Hindi

Breaking

बुधवार, 23 दिसंबर 2020

जम्मू-कश्मीर DDC चुनाव रिजल्ट : 74 सीटों के साथ BJP बनी अकेली सबसे बड़ी पार्टी.

जम्मू-कश्मीर DDC चुनाव रिजल्ट : 74 सीटों के साथ BJP बनी अकेली सबसे बड़ी पार्टी.


  • गुपकर गठबंधन 109 सीटों के साथ बना सबसे बड़ा गठबंधन 
  • BJP, 74 सीटों के साथ बनी सिंगल लार्जेस्ट पार्टी 
  • 274 सीटों पर आये रिजल्ट 6 पर मतगणना चालू.



जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) में जिला विकास परिषद (DDC) के पहले चुनाव में फारुक अब्दुल्ला का नेतृत्व वाले सात दलों के  गुपकर गठबंधन मंगलवार को कुल 280 में से 109 सीटों को जीत मिली , वहीं भाजपा को  कश्मीर घाटी की तीन सीटों सहित 74 सीटों पर जीत मिली है  और भाजपा सिंगल लार्जेस्ट पार्टी बनकर उभरी है . कांग्रेस के हिस्से में मात्र  26 सीटें आयी  निर्दलीय उम्मीदवारों ने 49 सीट पर जीत प्राप्त की है . केन्द्र शासित प्रदेश में डीडीसी का चुनाव 28 नवंबर से शुरू होकर आठ चरणों में पूरा हुआ. अगस्त, 2019 में संविधान के अनुच्छेद 370 को समाप्त कर जम्मू-कश्मीर का विशेष राज्य का दर्जा खत्म किए जाने के बाद प्रदेश में यह पहला चुनाव है. चुनाव में कुल 280 सीटें (जम्मू की 140 और कश्मीर की 140) पर मतदान हुआ है. 




जम्‍मू में अपनी पकड़ मजबूत बनाए हुए है बीजेपी

डीडीसी चुनावों का परिणाम अनुमान के अनुरुप ही दिख रहा है. जम्मू क्षेत्र में भाजपा मजबूती बनाए हुए है वहीं नेशनल कांफ्रेंस, पीडीपी जैसी क्षेत्रीय पार्टियों के गठबंधन गुपकर का प्रदर्शन कश्मीर घाटी और जम्मू के पीर पंजाल और चेनाब घाटी क्षेत्रों में बेहतर है. वोटों की गिनती से महज एक दिन पहले प्रशासन ने नईम अख्तर, सरताज मदनी, नीर मंसूर और हिलाल अहमद लोन सहित पीडीपी और नेकां के कई नेताओं को हिरासत में लिया. उन्हें हिरासत में लेने की कोई वजह नहीं बतायी गई है.


कश्मीर घाटी में पहली बार बीजेपी को मिली जीत

ऐसा पहली बार हुआ है जब कश्मीर घाटी में पीडीपी और नेकां के खिलाफ भाजपा को जीत मिली है. भाजपा को घाटी में तीन सीटें मिली हैं. घाटी में जीत से उत्साहित भाजपा के महासचिव विबोध गुप्ता ने पार्टी के विजेता उम्मीदवारों को, विशेष रूप से घाटी के उम्मीदवारों को बधाई दी. उन्होंने कहा कि घाटी के लोगों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में अपना विश्वास जताया है.