सघन पोषण पखवाड़ा मध्यप्रदेश: 15-28 फ़रवरी तक चलेगा सघन पोषण पखवाड़ा | Saghan Phshan Pakhvada MP - Daily Hindi Paper | RPSC Online GK in Hindi | GK in Hindi l RPSC Notes in Hindi

Breaking

बुधवार, 16 फ़रवरी 2022

सघन पोषण पखवाड़ा मध्यप्रदेश: 15-28 फ़रवरी तक चलेगा सघन पोषण पखवाड़ा | Saghan Phshan Pakhvada MP

 सघन पोषण पखवाड़ा मध्यप्रदेश में 15-28 फ़रवरी तक चलेगा

सघन पोषण पखवाड़ा मध्यप्रदेश: 15-28 फ़रवरी तक चलेगा सघन पोषण पखवाड़ा | Saghan Phshan Pakhvada MP


 

सघन पोषण पखवाड़ा मध्यप्रदेश


संचालक महिला बाल विकास डॉ. राम राव भोसले ने बताया कि मुख्यमंत्री बाल आरोग्य संवर्द्धन कार्यक्रम में 15 से 28 फरवरी की अवधि में प्रदेश के ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों में सघन पोषण पखवाड़ा मनाया जाएगा। 


सघन पोषण पखवाड़ा के उद्देश्य एवं महत्व 

पखवाड़े में समाज के सभी वर्गों और क्षेत्रों में बच्चों के पोषण के प्रति परिवार एवं समुदाय को जागरूक करने, स्वस्थ रहने, परिवार एवं बच्चों में स्पर्धा की भावना को बढ़ावा देने एवं वर्तमान में पोषण स्तर की जानकारी प्राप्त करना है।

संचालक डॉ. भोंसले ने बताया कि पखवाड़े के प्रथम सप्ताह में प्रातः 9 बजे से शाम 5 बजे के मध्य आँगनवाड़ी केन्द्रों पर बच्चों की शारीरिक माप की जाएगी। शेष दिवसों में दोपहर एक बजे के बाद टोले, मजरों अनकर्ब्ड क्षेत्र के छोटे बच्चों की शारीरिक माप उनके घर-घर जाकर आँगनवाड़ी कार्यकर्ता एवं सहयोगी संस्था द्वारा की जाएगी। स्कूल शिक्षा, स्वास्थ्य और आदिम जाति कल्याण विभाग द्वारा मिलकर विशेष शिविरों का आयोजन ग्राम और शहरी वार्ड वार किया जाएगा।


डॉ. भोंसले ने बताया कि अडॉप्ट एन आँगनवाड़ी कार्यक्रम में पंजीकृत सहयोगियों का सघन पोषण पखवाड़े में सहयोग प्राप्त किया जाएगा। इसमें आंकड़ों की प्रविष्टि एवं रिपोर्टिंग परियोजना वार ऑनलाइन प्रपत्र में एमआईएस आँगनवाड़ी केंद्र वार बच्चों के पोषण स्तर की जानकारी की संख्यात्मक प्रविष्टि की जाएगी। बच्चों में कुपोषण स्तर के आंकलन के बाद सैम श्रेणी के चिन्हांकित बच्चों को मुख्यमंत्री बाल आरोग्य के संवर्धन कार्यक्रम में शामिल करते हुए आईएमएएम रणनीति में बच्चों का उपचार एवं पोषण प्रबंधन किया जाएगा। सघन पोषण स्पर्धा और केंद्र स्तर पर आयोजित होने वाली अन्य गतिविधियों का प्रतिदिन फ़ेसबुक, ट्वीटर, इंस्टाग्राम एवं यूट्यूब के माध्यम से प्रचार प्रसार किया जाएगा।