विश्व सामाजिक न्याय दिवस 2022 की थीम (विषय) |सामाजिक न्याय मतलब |World Day of Social Justice 2022 Theme - Daily Hindi Paper | RPSC Online GK in Hindi | GK in Hindi l RPSC Notes in Hindi

Breaking

शुक्रवार, 11 फ़रवरी 2022

विश्व सामाजिक न्याय दिवस 2022 की थीम (विषय) |सामाजिक न्याय मतलब |World Day of Social Justice 2022 Theme

 विश्व सामाजिक न्याय दिवस 2022 की थीम (विषय)

विश्व सामाजिक न्याय दिवस 2022 की थीम (विषय) |सामाजिक न्याय  मतलब |World Day of Social Justice 2022 Theme



विश्व सामाजिक न्याय दिवस 2022 की थीम (विषय)

  • वर्ष 2022 की थीम ““Achieving Social Justice through Formal Employment” (औपचारिक रोजगार के माध्यम से सामाजिक न्याय प्राप्त करना) है।

 

  • 20 फरवरी, को प्रतिवर्ष विश्व सामाजिक न्याय दिवस (World Social Justice Day) मनाया जाता है।

 

विश्व सामाजिक न्याय दिवस का इतिहास 

अंतर्राष्ट्रीय श्रम संगठन द्वारा सर्वसम्मति से 10 जून, 2008 को निष्पक्ष न्याय के लिये सामाजिक न्याय पर घोषणा को अपनाया गया, यह वर्ष 1919 के ILO के संविधान निर्माण के बाद से इसके द्वारा अपनाए गए सिद्धांतों और नीतियों में तीसरा प्रमुख प्रयास है।


यह घोषणा वर्ष 1944 के फिलाडेल्फिया घोषणाऔर वर्ष 1998 के कार्य में मौलिक सिद्धांतों और अधिकारों की घोषणाको आधार बनाता है।

वर्ष 2008 की घोषणा वैश्वीकरण के युग में ILO के जनादेश की सामाजिक न्याय की समकालिक अवधारणा को अभिव्यक्त करती है।

 

सामाजिक न्याय का क्या मतलब होता है ?


सामाजिक न्याय का तात्पर्य देशों के शांतिपूर्ण सह-अस्तित्व और विकास के लिये आवश्यक सिद्धांत से है, जो न केवल अंत:देशीय समानता अपितु अंतर्देशीय समानता की परिस्थितियों से भी संबंधित है।

सामाजिक न्याय की संकल्पना को आगे बढ़ाने हेतु समाज में लिंग, उम्र, नस्ल, जातीयता, धर्म, संस्कृति या विकलांगता जैसे मानकों की असमानता को समाप्त करना होगा।

संयुक्त राष्ट्र संघ अंतर्राष्ट्रीय श्रमिक संगठन’ (International Labour Organization- ILO) की निष्पक्ष वैश्वीकरण के लिये सामाजिक न्याय पर घोषणाजैसे उपायों के माध्यम से सामाजिक न्याय के लक्ष्यों की प्राप्ति की दिशा में कार्य कर रहा है।