मध्यप्रदेश में पंचायत भवनों का नाम कुशाभाऊ ठाकरे व सामुदायिक भवन का नाम राजमाता सिंधिया के नाम से होगा - Daily Hindi Paper | RPSC Online GK in Hindi | GK in Hindi l RPSC Notes in Hindi

Breaking

मंगलवार, 29 दिसंबर 2020

मध्यप्रदेश में पंचायत भवनों का नाम कुशाभाऊ ठाकरे व सामुदायिक भवन का नाम राजमाता सिंधिया के नाम से होगा

 मध्यप्रदेश के समाचार
मध्यप्रदेश के समाचार

पंचायत भवनों का नाम स्व. कुशाभाऊ ठाकरे

पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री महेन्द्र सिंह सिसोदिया ने विभागीय समीक्षा बैठक में कहा कि प्रदेश में नवनिर्मित पंचायत भवनों का नाम स्व. कुशाभाऊ ठाकरे के नाम से और सामुदायिक भवनों का नाम स्व. राजमाता सिंधिया के नाम से रखा जाये। उन्होंने कहा कि शासन की जनकल्याणकारी योजनाओं का क्रियान्वयन ठीक तरीके से हो, किसी भी प्रकार भ्रष्टाचार बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। भ्रष्टाचार करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जायेगी।

सामुदायिक भवनों का नाम स्व. राजमाता सिंधिया 

श्री सिसोदिया ने कहा कि राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन ऐसा पोर्टल बनाए जिसमें स्व-सहायता समूह अपने उत्पादकों की ऑनलाइन मार्केटिंग कर सकें। मनरेगा अंतर्गत निर्माणाधीन कार्यों की विस्तार पूर्ण समीक्षा की गई। मंत्री ने कहा कि मनरेगा के अधिकारी प्रतिदिन 4-5 हितग्राहियों से बात करें। मनरेगा के तालाबों का स्पाट वेरिफिकेशन करें। वृक्षारोपण के लिए पहाड़ियों को चिन्हित किया जावे।


पंचायत मंत्री श्री सिसोदिया ने निर्देश दिए ग्राम पंचायत सचिव व ग्राम रोजगार सहायक सप्ताह में दो दिवस सोमवार और गुरूवार को ग्राम पंचायत मुख्यालय पर उपस्थित रहकर ग्रामीणों को योजनाओं की जानकारी दे एवं ग्रामीणों की समस्याओं का निराकरण करें। 


बैठक में पंचायत एवं ग्रामीण विकास राज्य मंत्री श्री राम खेलावन पटेल, पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के अपर मुख्य सचिव श्री मनोज श्रीवास्तव, संचालक पंचायती राज श्री बी.एस. जामोद, मध्यप्रदेश राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री एल.एम. बेलवाल सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।