राजस्थान के इतिहास में प्रमुख मुद्राएँ |राजस्थान के प्रमुख सिक्के |Rajsthan Ke Pramukh Sikke - Daily Hindi Paper | RPSC Online GK in Hindi | GK in Hindi l RPSC Notes in Hindi

Breaking

मंगलवार, 15 जून 2021

राजस्थान के इतिहास में प्रमुख मुद्राएँ |राजस्थान के प्रमुख सिक्के |Rajsthan Ke Pramukh Sikke

 राजस्थान के इतिहास में प्रमुख मुद्राएँ (सिक्के) 

राजस्थान के इतिहास में प्रमुख मुद्राएँ |राजस्थान के प्रमुख सिक्के |Rajsthan Ke Pramukh Sikke


 

  • राजस्थान के प्राचीन इतिहास के लेखन मे मुद्राओं या सिक्कों से बड़ी सहायता मिली हैये सोनेचांदीताम्बे और मिश्रित धातुओं के है। 
  • इन पर अनेक प्रकार के चिन्ह शूलछत्रहाथीघोड़ेचँवरवृक्षदेवी-देवताओं की आकृतिसूर्यचन्द्रनक्षत्र आदि खुदे रहते है।
  • तिथि क्रमशिल्प कौशलआर्थिक स्थितिराजाओं के नाम तथा उनकी धार्मिक अभिरूचि आदि पर ये प्रचुर प्रकाश डालते है।
  • सिक्कों की उपलब्धता राज्य की सीमा निर्धारित करती है। 
  • राजस्थान के विभिन्न भागों में मालवशिवियौधेय आदि जनपदों के सिक्के मिलते है।
  • राजस्थान मे रेढ के उत्खनन से 3075 चांदी के 'पंचमार्कसिक्के मिले है। ये सिक्के भारत के प्राचीनतम सिक्के है। इन पर विशेष प्रकार के चिन्ह टंकित है और कोई लेख नहीं है।
  • 10-11वीं शताब्दी में प्रचलित सिक्कों पर गधे के समान आकृति का अंकन मिलता हैइन्हें 'गधिया सिक्केकहा जाता है । 
  • महारणा कुंभा के चांदी एवं ताम्बे के सिक्के मिलते है। मुगल शासन काल में जयपुर में 'झाड़शाही', जोधपुर में 'विजयशाहीसिक्कों का प्रचलन हुआ।
  • ब्रिटिश शासन काल में अंग्रेजों ने अपने शासक के नाम के चांदी के सिक्के ढलवाये।


राजस्थान के प्रमुख सिक्के Rajsthan Ke Pramukh Sikke

 

  1. मुहम्मदशाही सिक्के -जैसलमेर
  2. अखेशाही सिक्के -जैसलमेर
  3. विजयशाही सिक्के -जोधपुर
  4. भीमशाही सिक्के -जोधपुर
  5. गजशाही सिक्के -बीकानेर
  6. गुमानशाही सिक्के -कोटा 
  7. मदनशाही सिक्के -झालावाड़ 
  8. स्वरूपशाही सिक्के -उदयपुर
  9. चांदोड़ी सिक्के -उदयपुर
  10. उदयशाही सिक्के -डुंगरपुर 
  11. तमचाशाही सिक्के -धौलपुर