11 सितंबर का इतिहास : इतिहास में 11 सितंबर की प्रमुख घटनाएं |11 September History in Hindi - Daily Hindi Paper | RPSC Online GK in Hindi | GK in Hindi l RPSC Notes in Hindi

Breaking

रविवार, 11 सितंबर 2022

11 सितंबर का इतिहास : इतिहास में 11 सितंबर की प्रमुख घटनाएं |11 September History in Hindi

 11 सितंबर का इतिहास :  इतिहास में 11 सितंबर की प्रमुख घटनाएं 

11 सितंबर का इतिहास :  इतिहास में 11 सितंबर की प्रमुख घटनाएं |11 September History in Hindi


11 सितंबर का इतिहास :  11 September History in Hindi

1893 : अमेरिका के शिकागो क्षेत्र में आयोजित विश्व धर्म सम्मेलन में स्वामी विवेकानंद ने सांप्रदायिकता, धार्मिक कट्टरता और हिंसा पर ऐतिहासिक भाषण दिया।

 

1895 : महान स्वतंत्रता सेनानी, सामाजिक कार्यकर्ता और प्रसिद्ध गांधीवादी नेता विनोबा भावे का जन्म।

 

1906 : महात्मा गाँधी ने दक्षिण अफ़्रीका में सत्याग्रह आन्दोलन आरंभ किया।

 

1919 : अमेरिकी नौसेना ने होंडुरास पर आक्रमण किया।

 

1922 : आस्ट्रेलिया के मेलबर्न में सचित्र दैनिक समाचार पत्र द सन न्यूज पेक्टोरियल की शुरूआत।

 

1939 : इराक और सऊदी अरब ने जर्मनी के खिलाफ युद्ध की घोषणा की।

 

1941 : अमेरिकी रक्षा मंत्रालय पेंटागन का निर्माण शुरू।

 

1948 : ब्रिटिशकालीन भारत के प्रमुख नेता और मुस्लिम लीगके अध्यक्ष मुहम्मद अली जिन्ना का निधन।

 

1951 : फ्लोरेंस चैडविक ने इंग्लिश चैनल तैरकर पार किया। उन्हें इंग्लैंड से फ्रांस पहुंचने में 16 घंटे और 19 मिनट लगे। ऐसा करने वाली वह पहली महिला बनीं।

 

1961 : विश्व वन्यजीव कोष की स्थापना।

 

1962 : मशहूर इंग्लिश रॉक बैंड दि बीटल्सने अपने पहले एकल हिट एलबम लव मी डूके गाने रिकार्ड किए।

 

1968 : एयर फ्रांस का विमान नाइस के निकट दुर्घटनाग्रस्त।

हादसे में 89 यात्रियों और चालक दल के छह सदस्यों की मौत।

 

2001 अमेरिका में आतंकवादियों ने विमान अपहरण कर न्यूयार्क के वर्ल्ड ट्रेड टावर की दो इमारतों, वर्जीनिया स्थित पेंटागन और पेन्सिलवेनिया पर हमला किया।

 

2003 : चीन के विरोध के बावजूद अमेरिकी राष्ट्रपति जार्ज बुश तिब्बत के धार्मिक नेता दलाई लामा से मिले।

 

2005 : गाजा पट्टी में 38 साल से जारी सैन्य शासन समाप्त करने की घोषणा।

 

2019 : अमेरिका ने प्रतिबंधित संगठन तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान (टीटीपी) के सरगना नूर वली महसूद पर प्रतिबंध लगाया और उसे वैश्विक आतंकवादी करार दिया।